Bablu

4882622

अंदाज़ कुछ अलग ही है मेरे सोचने का, सब को मंज़िल का शौख है मुझे रास्ते का